Gurudev Observatory

आत्मीय मित्रो ,

युग ऋषि श्री राम शर्मा आचार्यजी एवं माता भगवती देवी शर्मा के युग निर्माण के आदर्शो को वैज्ञानिक स्तर पर मूर्तिमान रूप देने के लिए गुरुदेव वेधशाला  का निर्माण किया गया है। वेधशाला की अन्य दो शाखाये देव सस्ंकृति विश्वविद्यालय,शांतिकुंज ,हरिद्वार और श्री गायत्री विद्यापीठ ,राजनांदगाँव  ,छत्तीसगढ़ में कार्यरत है।

वेधशाला रेडिओ और ऑप्टिकल ( दृश्यमान ) तरंगो पर शोध अध्ययन और शिक्षण का कार्य कर  रही है। वह नासा ,ESA ,ESO ,SARA  समेत विश्व की मूर्धन्य स्पेस अजेंसिस ,प्लेनेटेरियंस,विज्ञानं म्युसियम्स  ,विज्ञानं मंडलों और प्रमुख विज्ञानियों से सीधे जुडी है ।

हमारा उद्देश्य भारत के बच्चो को खगोल विज्ञानं ,विज्ञानं और उसके द्वारा विचारक्रान्ति से जोड़ने का है। हम मानते है की किसी भी हालत में इसका शिक्षण बच्चो को हकारात्मक ,तेजस्वी ,वर्षस्वी ,ओजस्वी ,उत्साही और विशाल मन का बनाता है। यह सबसे पुराना विज्ञानं और उसका शिक्षण भारत को जगतगुरु ,विश्वगुरु बनाएगा।

हमारे बच्चे इनका समुचित शिक्षण दूर रहके भी पा सके इसके लिए गुरुदेव वेधशाला ने अद्भुत साइट का निर्माण किया है। इस साइट पर आप खगोल विज्ञानं ,क्लाइमेट चेंज ,ग्लोवल वार्मिंग ,वाटर हार्वेस्टिंग ,वृक्षारोपण ,जल शुद्धि अभियान  जैसे कतिपय जानकारियो का भंडार पाएंगे। आप यहाँ पर इन विषयो पर लेटेस्ट जानकारी व आसमानी घटनाओ का हर महीने का ब्यौरा भी अलग अलग पेज पर देख सकेंगे।

हमने विश्व में पहली बार वेब साईट पर प्रश्नोत्तरी का पेज  रखा है। जिस पर आप गुजराती ,हिंदी या अंग्रेजी में उपरोक्त विषयो की जानकारी पा सकते है,प्रश्न पूछ सकते है या प्रशनो के जवाब में अपने विचार भी व्यक्त कर सकते है । आप इस पर अपनी कोइ विशेस खोज को भी अपने नाम से प्रशारित कर सकते है जो मिनिटो में पुरे विश्व में पहुँच जाएगी । आप इस पेज के माध्यम से विश्व के मूर्धन्य वैज्ञानिको से जुड़ सकते है।

इसके अलावा हमने  पहली बार खगोल विज्ञानं की साइट को भारतीय बनाया है ,यानी की हिंदी और गुजराती भाषा के विशेष पेज रखे है ताकि हमारे अंग्रेजी ना जानने  वाले बच्चे ,महिलाये ,गृहिणियां ,और आम आदमी भी इस महान विज्ञानं से जुड़ सके।

आशा है आप इस पेज और साइट को पसंद करोगे और विचारो का आदान प्रदान करेंगे। हमें प्रश्न पूछेंगे और इसका समुचित लाभ उठाएंगे।

आप इस पेज पर और क्या चाहते है वो भी प्रस्न के पेज पर जाके हिंदी,गुजराती या अंग्रेजी में लिखकर के बता सकते है।